अस्पतालों को मयंक जोशी ने 10 ऑक्सीजन कन्सट्रेटर दीये।

Spread the love

लखनऊ, 08 जून, 2021।

आज लखनऊ में हेमवती नन्दन बहुगुणा स्मृति समिति के सचिव मयंक जोशी द्वारा सिंगापुर के नागरिको के सहयोग से 10-10 ली0 के 10 ऑक्सीजन कन्सट्रेटर उत्तर रेलवे इन्डोर कोविड अस्पताल, आलमबाग,  एवं कैण्टोमेन्ट अस्पताल, कैण्ट, लखनऊ को प्रदान किये गए। कार्यक्रम में कैण्ट की पूर्व विधायक एवं सांसद प्रयागराज प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी भी उपस्थित रही। 

लखनऊ के दो अस्पतालों को मयंक जोशी ने 10 लीटर के 10 ऑक्सीजन  कन्सट्रेटर प्रदान किये
लखनऊ के दो अस्पतालों को मयंक जोशी ने 10 लीटर के 10 ऑक्सीजन  कन्सट्रेटर प्रदान किये

सिंगापुर के नागरिको को धन्यवाद देते हुए मयंक जोशी ने कहा कि सिंगापुर के नागरिको के सहयोग से 30 लाख की लागत के 28 ऑक्सीजन कन्सट्रेटर आवश्यकतानुसार लखनऊ एवं प्रयागराज के कोविड अस्पतालों को दिया जा रहा है, जिसमें से 5 कन्सट्रेटर उत्तर रेलवे इन्डोर कोविड अस्पताल, लखनऊ तथा 5 कन्सट्रेटर कैण्टोमेंन्ट अस्पताल, कैण्ट, लखनऊ तथा 18 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर प्रयागराज के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के लेवल 1 व 2 अस्पतालों को दिये जायेगे।  

लखनऊ में मयंक जोशी

मयंक जोशी ने डा0 विश्वमोहनी सिन्हा, मुख्यचिकित्साधिकारी, उत्तर रेलवे इन्डोर कोविड अस्पताल, आलमबाग, लखनऊ एवं डा0 सतीश चन्द्र जोशी, कैन्टोन्मेंट अस्पताल, कैंट, लखनऊ को ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर सौपा। कोविड की दूसरी लहर में सर्वाधिक कमी ऑक्सीजन की हुयी थी जिसके कारण कोविड मरीजों को बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है। जहां कोविड की संभावित तीसरी लहर से लोगो को बचाने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार तेजी से अनेको प्रबंध कर रही है और सरकार द्वारा विभिन्न स्तर के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किये जा रहे है वही सामाजिक संगठन व संवेदनशील व्यक्ति भी अपनी ओर से सहयोग में जुटे है।

ऐसा ही एक प्रयास मंयक जोशी द्वारा किया जा रहा है। मयंक जोशी ने सिंगापुर में अपने मित्रों से सम्पर्क किया और उनके माध्यम से सिंगापुर के नागरिको ने दिल खोलकर देश के विभिन्न प्रांतो को ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर के माध्यम से सहयोग किया। उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के राज्यों को इस माध्यम से बड़ी संख्या में ऑक्सीजन कान्सट्रेटर उपलब्ध कराये जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *