गेल इंडिया कासंगज में लगायेगा दो आक्सीजन प्लांट

Spread the love

सफलता की कहानी-33

कासगंज । जनपद में गेल इंडिया के द्वारा दो ऑक्सीजन प्लान्टस की स्थापना की जा रही है।जिनसे एक सप्ताह के भीतर आक्सीजन का

जनपद कासगंज में गेल इंडिया के द्वारा दो ऑक्सीजन प्लान्टस की स्थापना की जा रही है। जिनसे एक सप्ताह के भीतर  आक्सीजन का उत्पादन शुरु हो जायेगा। आक्सीजन प्लांट कहां लगाया जाये, इसके लिये गेल के अधिकारियों ने स्थल का निरीक्षण कर लिया है।

जिलाधिकारी चन्द्रप्रकाश सिंह और सीएमओ डाक्टर अनिल कुमार गेल के अधिकारियों के साथ मिलकर दिन रात इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे है औऱ पूरी कोशिश कर निजात दिलायी जा सके।आक्सीजन प्लांट की स्थापना हेतु इंजीनियरों द्वारा उपलब्ध कराये गये खाके के अनुसार आवश्यक सुविधा उपलब्ध करायी जा रही हैं ताकि आक्सीजन का प्लांट बिना देरी के तुरंत स्थापित हो सके।पहला आक्सीजन प्लांट संयुक्त चिकित्सालय में लगेगा।

दूसरा ऑक्सीजन प्लांट गंजडुण्डवारा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में लगाया जायेगा. यहां ऑक्सीजन प्लांट लगाकर बेडों तक पाइप लाइन के जरिए कोविड मरीजों के उपचार हेतु ऑक्सीजन पहुंचाई जाएगी. ऑक्सीजन प्लांट लगने से लोगोंको  काफी राहत मिलेगी। जिले में दिबियापुर में एक रीफिलिंग प्लांट लगा है। लेकिन लिक्विड ऑक्सीजन की भारी किल्लत है। ऐसे में गेल प्रशासन की ओर से प्लांट लगवाने से भविष्य में भी ऑक्सीजन की जरूरतें पूरी होंगी।कासगंज में संयुक्त जिला चिकित्सालय में डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडरों की संख्या-111 एवं बी टाइप सिलेंडरों की संख्या-34 है ,जिनके माध्यम से ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है। 

गेल-इंडिया-कासंगज-में-लगायेगा-दो-आक्सीजन-प्लांट
गेल इंडिया कासंगज में लगायेगा दो आक्सीजन प्लांट

इसके अतिरिक्त उन्चास ऑक्सीजन कंसंट्रेटर हैं । जिले में ऑक्सीजन प्लांट के शुरू होने से और अधिक सुविधा होगी। साथ ही जनपद के संयुक्त जिला चिकित्सालय में बेडों की संख्या 100 से बढ़ाकर 150 कर दी गई है। कोरोना महामारी से निपटने के लिये जनपद में 581 निगरानी समितियां बनाई गई हैं।

इसके साथ जनपद के सभी कस्बों एवं गांवों में साफ़ सफाई का कार्य एवं सेनेटाइज़ेशन का कार्य लगातार किया जा रहा है।निरीक्षण टीम ने  सौ शैय्या जिला चिकित्सालय पहुंचकर गेल द्वारा बनाए जा रहे 100 बेड के लिए आक्सीजन प्लांट के फाउंडेशन कार्य का निरीक्षण किया। जहां उन्होंने पाया कि गेल द्वारा फाउंडेशन का काम ठीक से चल रहा है।ऑक्सीजन पाइप लाइन बिछाने के लिए जल्द टेंडर की प्रक्रिया शुरु हो गयी है। उतर प्रदेश के कई जिलों में आक्सीजन प्लांट स्थापित करने का काम जोरो से चल रहा है।जिससे करोना की आने वाली तीसरी लहर से लोगों को निजात मिल सकेगी। 

डा.श्रीकांत श्रीवास्तव/सुन्दरम चौरिसया

सफलता की कहानी-32

source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *