मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निरंतर प्रयासों से कोरोना महामारी नियंत्रण में

Spread the love

– संजय कुमार चतुर्वेदी

लखनऊ। लगातार कोशिशों से उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर की स्थिति नियंत्रण में है। संक्रमण दर न्यूनतम स्थिति में है। वर्तमान में 2,796 कोरोना मरीज उपचाराधीन हैं। प्रदेश में कोरोना से स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 16 लाख 80 हजार 720 हो चुकी है। प्रदेश की कोविड रिकवरी दर 98.5 फीसदी हो गई है, जबकि बीते 24 घंटे में पॉजिटिविटी दर 0.06% फीसदी पाई गई। प्रदेश में अब तक 05 करोड़ 78 लाख 44 हजार 27 टेस्ट हो चुके हैं।

विगत 24 घंटे में प्रदेश में 02 लाख 57 हजार 818 कोविड टेस्ट किए गए। इसी अवधि में संक्रमण के 165 नए मामले आये हैं, जबकि 292 मरीज उपचारित होकर स्वस्थ हुए हैं। 1,810 लोग होम आइसोलेशन में हैं। देश के अनेक राज्यों में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ‘डेल्टा+’ से संक्रमित मरीज पाए जा रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार इस बार का वैरिएंट पहले की अपेक्षा कहीं अधिक खतरनाक है। हमें विशेष सतर्कता बरतनी होगी। विशेषज्ञों के परामर्श के अनुरूप बिना देर किए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। कोरोना महामारी के दृष्टिगत प्रदेश की स्थिति हर दिन के साथ बेहतर होती जा रही है। यह अतिरिक्त सतर्कता और सावधानी बरतने का समय है। थोड़ी सी लापरवाही बड़ी समस्या का कारक बन सकती है।

 प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को त्वरित और गुणवत्तापरक स्वास्थ्य सुविधाएँ मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार द्वारा संकल्पित भाव के साथ प्रयास किये जा रहे हैं। विकास खंड स्तर पर सब हेल्थ सेंटर की संख्या और बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। वर्तमान में प्रदेश में 18 हजार से अधिक सब हेल्थ सेंटर संचालित हैं। जुलाई माह में 5,000 नए सब हेल्थ सेंटर स्थापित करने की प्रक्रिया आरम्‍भ की जायेगी । यह लोगों को त्वरित चिकित्सकीय सहायता उपलब्ध कराने में उपयोगी सिद्ध होंगे। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस संबंध में कार्यवाही तत्काल शुरू कर दी जाए। उसे नियोजित प्रकार से लागू कराया जाए तथा यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्‍येक केन्‍द्र पर स्‍टाफ रहे ।

● प्रदेश के सभी जनपदों की सीएचसी और पीएचसी में उपकरणों की मरम्मत, क्रियाशीलता, परिसर की रंगाई-पुताई, स्वच्छता और मैन पावर की पर्याप्त उपलब्धता के संबंध में इस संबंध में जारी विशेष कार्यवाही और तेज की जाए। इसकी सतत मॉनीटरिंग हो।

● कोरोना के कारण निराश्रित हुईं महिलाओं की आजीविका के लिए समुचित प्रबंध किया जाना आवश्यक है। निराश्रित महिलाओं के आर्थिक उन्‍नयन के लिए राज्य सरकार सभी आवश्यक व्यवस्थाएं कराएगी। मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की तर्ज पर महिला एवं बाल विकास विभाग ऐसी महिलाओं के संबंध में भी विस्तृत कार्ययोजना तैयार करे।। इसके अलावा, निराश्रित महिला पेंशन के लिए अर्ह महिलाओं को पेंशन वितरण के लिए ब्लॉक/न्याय पंचायत स्तर पर विशेष शिविर आयोजित किए जाएं।राजस्व विभाग द्वारा ऐसी महिलाओं को प्राथमिकता के साथ नियमानुसार पारिवारिक उत्तराधिकार लाभ दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाए।

सरकार सबके साथ

● ओल्ड एज होम में निवासरत वृद्धजनों की जरूरतों/समस्याओं का त्वरित संज्ञान लिया जाए। इनके पारिवारिक विवादों का समाधान कराया जाए। इनके स्वास्थ्य की बेहतर ढंग से देखभाल की जानी चाहिए।

● “गंगा एक्सप्रेस वे” के लिए भूमि के क्रय सहित अन्य सभी आवश्यक प्रक्रियाओं को तेजी से पूरा किया जाए। यह सुखद है कि लोग परियोजना के लिए प्रशासन को प्रसन्नता के साथ भूमि उपलब्ध करा रहे हैं। अब तक 63,362 किसानों से 5,261 हेक्टेयर भूमि क्रय की जा चुकी है। यह भूमि परियोजना की कुल जरूरत की 80 फीसदी है। शेष 1,221 हेक्टेयर भूमि की खरीद प्राथमिकता के साथ की जाए।

● नदियों के जलस्तर की सतत मॉनीटरिंग की जाए। वर्तमान में लखीमपुर खीरी, गोरखपुर, बाराबंकी सहित 06 जिले अतिवृष्टि से प्रभावित हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ तथा आपदा प्रबंधन टीमों को 24×7 एक्टिव मोड में रखा जाए। बाढ़/अतिवृष्टि से पर प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों में देर न हो। प्रभावित परिवारों को हर जरूरी मदद तत्काल उपलब्ध कराई जाए।

● पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्थी जी आज 36 वर्षों का कार्यकाल पूर्ण कर सेवानिवृत्त हो रहे हैं। आईपीएस अधिकारी के रूप में अपने अपनी लंबी सेवावधि के दौरान एक अच्छे नेतृत्वकर्ता, तेज-तर्रार अधिकारी के रूप में देश-प्रदेश की सेवा की है। कोविड की विभीषिका के बीच आपने उत्तर प्रदेश पुलिस के मुखिया की महती जिम्मेदारी का निर्वहन किया। इस अवधि में पुलिस के मानवीय पक्ष ने पूरे देश को प्रभावित किया। कोविड प्रबंधन के लिए गठित टीम-09 के महत्वपूर्ण सदस्य के रूप में भी आपकी भूमिका सराहनीय रही। टीम-09 के सभी सदस्य जीवन की नवीन पारी के लिए आपको शुभकामनाएं ज्ञापित करते हैं।

● टीम-09 की एक महत्वपूर्ण सदस्य अपर मुख्य सचिव राजस्व व बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार जी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जा रही हैं। टीम 09 के सदस्य के रूप में आज उनका आखिरी कार्य दिवस है। उनके नेतृत्व में राजस्व विभाग ने वरासत अभियान का सफल क्रियान्वयन किया। पूरे देश में इसकी सराहना हुई। कोरोना काल में प्रवासी श्रमिकों की स्किल मैपिंग, कोरोनटिन सेंटर एवं सामुदायिक किचन आदि प्रबंधन में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। बेसिक शिक्षा विभाग में उनके नेतृत्‍व में सुधारात्‍मक कार्य हुये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *