एमरन फाउंडेशन और लखनऊ फिल्म फोरम की सार्थक पहल, सीमा पाहवा ने सिखाएं अभिनय-निर्देशन के गुण

Spread the love

लखनऊ,16,मार्च2021।’एमरेन फ़ाउन्डेशन’ लखनऊ के सामाजिक रूप से सजग लोगों द्वारा बनायी गयी एक संस्था है। इस संस्था की आधारशिला विभिन्न क्षेत्रों के अनुभवी व्यक्तियों ने मिलकर रखी है जो इस मंच के माध्यम से अपने बहुमूल्य अनुभव समाज के साथ साझा करने को प्रतिबद्ध हैं।

एमरन फ़ाउन्डेशन ‘लखनऊ फ़िल्म फ़ोरम’ के इस  नवोन्मेषी फोरम का एकमात्र उद्देश्य है कि लखनऊ को सिने जगत के केंद्र के रूप में विकसित करना। इसके साथ ही फ़िल्म जगत के अन्य महत्वपूर्ण आयामों को उत्तर प्रदेश में आयोजित कर प्रदेश के महत्वकांक्षी युवाओं का सशक्तिकरण भी इस फोरम के उद्देश्यों में निहित है।
एमरेन फाउंडेशन ने हमारे मीडिया और फिल्म उद्योग के विभिन्न 71 वर्टिकल पर आवश्यक प्रकाश को डिकोड और जागरूकता फैलाने के लिए मास्टर कक्षाओं की एक श्रृंखला का संचालन शुरू किया है।
सीमा पाहवा एक भारतीय अभिनेत्री और फिल्म निर्माता हैं। 63 वें फिल्मफेयर पुरस्कारों में, उन्हें दो बार फिल्मफेयर अवार्ड के लिए फिल्म बरेली की बर्फी (2017) और शुभ मंगल सावधान (2017) के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए नामांकित किया गया। उन्हें 65 वें फिल्मफेयर पुरस्कारों में सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित किया गया था।
फरवरी 2021 में 66 वें फिल्मफेयर अवार्ड्स 2021 में सीमा पाहवा  ने चिंटू का जन्मदिन के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार जीता।
उन्होंने अपने निर्देशन की शुरुआत रामप्रसाद की फिल्म तेहरवी से की, जिसका प्रीमियर 2019 में मुंबई फिल्म फेस्टिवल में किया गया था।
पहवा दूरदर्शन के सोप ओपेरा हम लोग (1984-1985) में बड़की की भूमिका निभाई थी।
सीमा पाहवा ने आज इस कार्यक्रम में उपस्थित छात्र छात्राओं को अभिनय और निर्देशन के गुर सिखाए उन्होंने कहा कि हम लोग बहुत जल्दी हार मान जाते हैं लेकिन अभिनय और निर्देशन वह कला है जहां असफलता के बाद ही सफलता मिलती है एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि कमर्शियल सिनेमा और कला सिनेमा में अंतर दर्शक ही पैदा करते हैं दर्शक जो पसंद करते हैं उन्हें फिल्म निर्माता  निर्देशक बनाने का प्रयास करते हैं उन्होंने एमरेंन फाउंडेशन और लखनऊ फिल्म फोरम की सराहना करते कहा कि इस संस्था का प्रयास बहुत ही सराहनीय है इन के माध्यम से यहां के छात्र छात्राओं को यहीं लखनऊ में ही फिल्म की बारीकियां सीखने का मौका मिल रहा है।
रेणुका टंडन निदेशक अमरेन फाउंडेशन के अध्यक्ष रेणुका टंडन ने इस अवसर पर कहा कि ‘इस परियोजना को शुरू करने का हमारा उद्देश्य इच्छुक कलाकारों को विभिन्न संस्थानों से जुड़ने के लिए मार्ग प्रदान करना है जो पहले से ही हमारे राज्य में इन पाठ्यक्रमों को चला रहे हैं ।
श्रीमती वंदनाअगरवाल कार्यकारी सदस्य एमरेन फाउंडेशन ने आगे कहा कि हमारा उद्देश्य इन आकांक्षाओं को फिल्म निर्माण के विविध पहलुओं के बारे में शिक्षित करने की संभावनाओं को लेकर एक कौशल विकास का रोड मैप तैयार करना है और इस उद्देश्य के लिए हमने ऐसे आकांक्षियों के कई समूहों को आमंत्रित किया और इसमें सभी वर्ग के छात्र-छात्राओं को भी शामिल किया, जिन्हें लखनऊ फिल्म फोरम  ने कलाकारों से रूबरू होने का अवसर प्रदान किया है। इस अवसर पर बड़ी संख्या में छात्र छात्राओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *