Red Fort Violence: कोर्ट में बोला दीप सिद्धू- ‘झंडा फहराना कोई जुर्म नहीं’

Spread the love

Vidya Gyan Desk: गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) पर कृषि काननूों (Farm Laws) के विरोध में ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) के दौरान हुई हिंसा मामले (Red Fort Violence) में गिरफ्तार हुए पंजाबी अभिनेता और एक्टिविस्ट दीप सिद्धू (Deep Sidhu) की जमानत याचिका पर आज दिल्ली कोर्ट में सुनवाई हुई।

सुनवाई के दौरान दीप सिद्धू (Deep Sidhu) ने वकीलों के जरिए कोर्ट से कहा कि झंडा फहराना कोई जुर्म नहीं है, उसने फेसबुक लाइव होस्ट कर गलती कर दी थी। दरअसल किसानों ने तीन नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के विरोध में दिल्ली में ट्रैक्टर रैली (Tractor Parade) का आयोजन किया था, जिसके बाद हिंसा भड़क (Red Fort Violence) गई थी।

विशेष न्यायाधीश नीलोफर आबिदा परवीन ने सुनवाई को 12 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया है। सिद्धू के वकील अभिषेक गुप्ता ने अदालत से कहा, ‘मैंने झंडा नहीं फहराया और ना ही किसी से झंडा फहराने की अपील की, झंडा फहराना जुर्म नहीं है और यह एक बहस का मुद्दा है, जिसमें मैं नहीं पड़ना चाहता। मैंने गलती की है, लेकिन हर गलती जुर्म नहीं होती। मैंने फेसबुक लाइव कर गलती की है।

जानें क्या है पूरा मामला

केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों (Farm Laws) को निरस्त करने की अपनी मांग को लेकर 26 जनवरी को किसान संघों के आह्वान पर देश की राजधानी दिल्ली में निकाली गई ‘ट्रैक्टर रेड’ के दौरान हजारों किसानों की पुलिसकर्मियों के साथ हिंसक झड़प हुई थी। इसी बीच कई प्रदर्शनकारी ट्रैक्टर के साथ लाल किले पहुंच गए और स्मारक में घुस गए।

कुछ लोगों ने लाल किले पर चढ़कर ध्वज स्तंभ पर धार्मिक झंडा लगा दिया। ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा में 500 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए थे, जबकि एक प्रदर्शनकारी की मौत भी इस हिंसा में हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *