PM मोदी ने किया भारत-बांग्लादेश के बीच मैत्री सेतु का उद्घाटन, जानें खास बातें

Spread the love

Vidya Gyan Desk: पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए भारत और बांग्लादेश के बीच ‘मैत्री सेतु’ (Maitri Setu) पुल का उद्घाटन किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने त्रिपुरा में कई परियोजनाओं का लोकार्पण किया। 

अपने संबोधन में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि आज से तीन साल पहले आप लोगों ने एक नया इतिहास रचा था और पूरे देश को मजबूत संदेश दिया था। दशकों से राज्य के विकास को रोकने वाली नकारात्मक शक्तियों को हटाकर त्रिपुरा के लोगों ने एक नई शुरुआत की थी। उन्होंने कहा कि 2017 में आपने त्रिपुरा में विकास का डबल इंजन लगाने का फैसला किया। इस डबल इंजन के फैसले के कारण जो परिणाम निकले, वो आज आपके सामने है।

पीएम मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि आज त्रिपुरा पुरानी सरकार के 30 साल और डबल इंजन की 3 साल की सरकार में आए बदलाव को अनुभव कर रहा है। जिस त्रिपुरा को हड़ताल कल्चर ने बरसों पीछे कर दिया था, आज वो Ease of Doing Business के लिए काम कर रहा है। जहां कभी उद्योगों में ताले लगने की नौबत आ गई थी, वहां अब नए उद्योगों, नए निवेश के लिए जगह बन रही है।

त्रिपुरा को केंद्र से मिल रही बड़ी मदद

केंद्र द्वारा त्रिपुरा को दी जाने वाली भारी-भरकम राशि का जिक्र करते हुए पीएम मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि पिछले 6 साल में त्रिपुरा को केंद्र सरकार से मिलने वाली राशि में बड़ी वृद्धि की गई है। 2009 से 2014 के बीच केंद्र सरकार ने त्रिपुरा को विकास परियोजनाओं के लिए 3500 करोड़ रुपए की मदद दी थी। जबकि साल 2014 से 19 के बीच 12 हजार करोड़ रुपए से अधिक की मदद दी गई है।

पश्चिम बंगाल का नाम लिए बिना प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि जहां डबल इंजन की सरकार नहीं है, आपके पड़ोस में ही, गरीबों, किसानों, बेटियों को सशक्त करने वाली योजनाएं या तो लागू ही नहीं की गई, या बहुत धीमी गति से चल रही है। डबल इंजन सरकार का सबसे बड़ा असर गरीबों को पक्के घर देने में दिख रहा है।

सुधरा त्रिपुरा का इन्फ्रास्ट्रक्चर

पीएम मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि 2017 से पहले त्रिपुरा के 5.80 लाख घरों में गैस कनेक्शन था। आज राज्य के 8.50 लाख घरों में गैस कनेक्शन है। डबल इंजन की सरकार बनने से पहले त्रिपुरा में सिर्फ 50 प्रतिशत गांव खुले में शौच से मुक्त थे। आज त्रिपुरा का करीब-करीब हर गांव खुले में शौच से मुक्त है।

उन्होंने बताया कि त्रिपुरा की कनेक्टिविटी के इंफ्रास्ट्रक्चर में बीते 3 साल में तेजी से सुधार हुआ है। एयरपोर्ट का काम हो, या समंदर के रास्ते त्रिपुरा को इंटरनेट से जोड़ने का काम हो, या रेल लिंक, इनमें तेजी से काम हो रहा है।

मैत्री सेतु का किया जिक्र

पीएम मोदी (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने आगे कहा कि अपने बांग्लादेश दौरे के दौरान मैंने और प्रधानमंत्री शेख हसीना जी ने मिलकर त्रिपुरा को बांग्लादेश से सीधे जोड़ने वाले ब्रिज (Maitri Setu) का शिलान्यास किया था और आज इसका लोकार्पण किया गया है।

उन्होंने कहा कि मैत्री सेतु (Maitri Setu) के अलावा दूसरी सुविधाएं जब बन जाएंगी तो नॉर्थ ईस्ट के लिए किसी भी तरह की सप्लाई के लिए हमें सिर्फ सड़क मार्ग पर निर्भर नहीं रहना होगा। अब जल मार्ग से द्वारा एक वैकल्पिक मार्ग मिले, इसके लिए प्रयास किये जा रहे हैं।

शरणार्थियों का भी किया जिक्र

प्रधानमंत्री (PM Modi innagurate Maitri Setu) ने कहा कि त्रिपुरा के ब्रू शरणार्थियों की समस्याओं को दूर करने के लिए दशकों बाद समाधान हमारी ही सरकार के प्रयासों से मिला। हज़ारों ब्रू साथियों के विकास के लिए दिए गए 600 करोड़ रुपए के विशेष पैकेज से उनके जीवन में बहुत सकारात्मक परिवर्तन आएगा। जब हर घर जल, बिजली, स्वास्थ की सुविधाएं पहुंचती हैं तो हमारे जनजातीय क्षेत्रों को इसका विशेष लाभ होता है। यही काम केंद्र और त्रिपुरा की सरकार मिलकर कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *