शुक्रवार को जपें मां लक्ष्‍मी के 18 पुत्रों के नाम, आर्थिक तंगी से मिलेगा छुटकारा

Spread the love

Vidya Gyan Desk: शुक्रवार (Friday Tips) की शाम को मां लक्ष्मी (Goddess Lakshmi) की पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि शुक्रवार को विधिवत पूजन से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और जातकों पर धन वर्षा करती हैं। घर में सुख-शांति और समृद्धि बनाए रखने के लिए लोग शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं।

कहते हैं कि मां लक्ष्मी (Goddess Lakshmi) की पूजा करने से पैसों (Money) की कमी कभी नहीं होती है। धर्मग्रंथों में धन समृद्धि की देवी लक्ष्मी को बताया गया है। इन्हें भगवान विष्णु की पत्नी और आदिशक्ति भी कहा जाता है। धन की देवी मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं। मां लक्ष्‍मी धन-संपत्ति की देवी हैं जो जीवन में सुख-सौभाग्‍य को बनाएं रखती हैं।

माना जाता है कि अगर पैसों की परेशानी हो तो मां लक्ष्‍मी के 18 पुत्रों का नाम लेने से अचानक धन लाभ होता है। यह उपाय शुक्रवार से आजमाएं और मां लक्ष्मी की कृपा से अपनी समस्‍याओं से छुटकारा पाएं।

ऋग्वेद में लक्ष्मी पुत्रों के नाम

ऋग्वेद में लक्ष्मी जी के 4 पुत्रों का नाम इस श्लोक में आया है।

आनंद: कर्दम: श्रीदश्चिकलीत इति विश्रुता, ऋषय: श्रिय: पुत्राश्व मयि श्रीर्देवी देवता

लेकिन आकस्मिक धन पाने के लिए आपको लक्ष्मी जी के 18 पुत्रों के नाम लेने होंगे। इसके बाद धन की परेशानी से मां लक्ष्मी छुटकारा दिलाती हैं।

कैसे होगा धन लाभ

अगर कभी अचानक से आपको घाटा हो जाए या फिर जॉब चली जाए या फिर बीमारी के चलते बैंक बैलेंस खत्‍म हो जाए तो ऐसी ही स्थिति में, लक्ष्मी जी के 18 पुत्रों का नाम, शुक्रवार से जपना शुरू कर दें।

मां लक्ष्‍मी के 18 पुत्रों के नाम-

  1. ॐ देवसखाय नम:
  2. ॐ चिक्लीताय नम:
  3. ॐ आनन्दाय नम:
  4. ॐ कर्दमाय नम:
  5. ॐ श्रीप्रदाय नम:
  6. ॐ जातवेदाय नम:
  7. ॐ अनुरागाय नम:
  8. ॐ सम्वादाय नम:
  9. ॐ विजयाय नम:
  10. ॐ वल्लभाय नम:
  11. ॐ मदाय नम:
  12. ॐ हर्षाय नम:
  13. ॐ बलाय नम:
  14. ॐ तेजसे नम:
  15. ॐ दमकाय नम:
  16. ॐ सलिलाय नम:
  17. ॐ गुग्गुलाय नम:
  18. ॐ कुरूण्टकाय नम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *