Assam: BJP उम्‍मीदवार की कार में EVM! मचा बवाल, कृष्‍णेंदु पॉल बोले- ‘यह मेरी गाड़ी ही नहीं’

Spread the love

Vidya Gyan Desk: असम (Assam Chunav) में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान (Assam Election 2021) हो चुका है। यहां एक BJP प्रत्‍याशी की कार से EVM मिलने के बाद राजनीतिक पारा बढ़ गया है।

कांग्रेस (Congress) ने जहां BJP और चुनाव आयोग (Election Commission) के बीच सांठगांठ का आरोप लगाते हुए तीखा हमला किया है, वहीं BJP उम्‍मीदवार कृष्‍णेंदु पॉल (Krishnendu Paul) का दावा है कि यह उनकी गाड़ी ही नहीं है। इस मामले में कड़ा कदम उठाते हुए चुनाव आयोग ने 4 निर्वाचन अधिकारियों को सस्‍पेंड कर दिया है। इसके अलावा संबंधित पोलिंग बूथ पर फिर से वोटिंग कराने का फैसला लिया गया है।

‘मेरे भाई ने पोलिंग पार्टी की मदद के लिए दी गाड़ी’

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पथरकंडी से बीजेपी प्रत्‍याशी कृष्‍णेंदु पॉल (Krishnendu Paul) ने दावा किया है कि यह कार उनकी पत्‍नी की है। गुरुवार शाम मतदान खत्‍म होने के बाद वह अपने घर चले गए थे। उनके भाई ने पोलिंग पार्टी की मदद करने के लिए यह गाड़ी उन्‍हें EVM ले जाने के लिए दी थी।

हालांकि, कृष्‍णेंदु पॉल (Krishnendu Paul) ने ये स्‍वीकार किया कि उनके भाई को ऐसा नहीं करना चाहिए था। इसकी जगह कुछ और रास्‍ता निकाला जा सकता था। उन्‍होंने कहा कि गाड़ी में मिले EVM उनके विधानसभा क्षेत्र के नहीं थे। उन्‍होंने कांग्रेस पर इस मुद्दे को लेकर दुष्‍प्रचार करने का आरोप लगाया है।

राहुल और प्रियंका गांधी ने जमकर चलाए तीर

गौरतलब है कि इस मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और राहुल गांधी ने बीजेपी और चुनाव आयोग पर जमकर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा है कि बीजेपी की नीयत खराब है।
वहीं प्रियंका ने कहा- ‘क्या स्क्रिप्ट है? चुनाव आयोग की गाड़ी खराब हुई, तभी वहां एक गाड़ी प्रकट हुई। गाड़ी बीजेपी के प्रत्याशी की निकली। मासूम चुनाव आयोग उसमें बैठ कर सवारी करता रहा। प्रिय चुनाव आयोग, माजरा क्या है? आप देश को इस पर कुछ सफाई दे सकते हैं?’ कांग्रेस ने बीजेपी उम्मीदवार की योग्यता खारिज करने की मांग की है।

सड़क हादसे का शिकार हो गई थी पोलिंग पार्टी: चुनाव आयोग

दरअसल, इस पूरे मामले पर हंगामा मचने के बाद चुनाव आयोग ने स्‍पष्‍टीकरण दिया था। आयोग ने बताया था कि दूसरे चरण के चुनाव के बाद गुरुवार रात रताबरी (एससी) सीट की पोलिंग पार्टी 149-इंदिरा एमवी स्कूल सड़क हादसे का शिकार हो गई थी। इस पार्टी में एक पीठासीन अधिकारी और 3 चुनाव कर्मी शामिल थे। एक कॉन्स्टेबल और होमगार्ड की उपस्थिति में वे ईवीएम ले जा रहे थे। रात 9 बजकर 20 मिनट पर पोलिंग पार्टी ने वहां से गुजर रही एक गाड़ी से मदद मांगी और बिना कागजात चेक किए ईवीएम के साथ उस पर सवार हो गए।

‘भीड़ ने गाड़ी घेर ली और आगे बढ़ने से रोक दिया’

चुनाव आयोग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि वे लोग करीमगंज की ओर बढ़े और रात 11 बजे कनईशील पहुंचे। यहां ट्रैफिक की वजह से गाड़ी की रफ्तार धीमी गई। इस बीच, उन्हें करीब 50 लोगों की भीड़ ने घेर लिया और उन पर पत्थर फेंके गए। भीड़ ने उनसे बद्तमीजी करनी शुरू कर दी और कार को आगे बढ़ने से रोक दिया।

भीड़ ने ईवीएम से छेड़छाड़ का लगाया आरोप

चुनाव आयोग के मुताबिक, जब गाड़ी में सवार पोलिंग पार्टी ने भीड़ से कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि यह गाड़ी कृष्णेंदु पॉल की है जो पथरकंडी से चुनाव लड़ रहे हैं। लोगों ने आरोप लगाया कि ईवीएम को छेड़छाड़ के लिए ले जाया जा रहा है। पोलिंग पार्टी ने सेक्टर ऑफिसर को सूचित किया। इसके बाद भीड़ में मौजूद लोगों ने उन पर हमला किया और पोलिंग पार्टी को वाहन समेत बंधक बना लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *