कठिन समय में सराहनीय बजट – प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी ,सांसद, प्रयागराज।

Spread the love

लखनऊ,1,फरवरी,2021 । प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी ने बजट पर  माननीय प्रधानमंत्री एवं वित्त मंत्री को  बधाई देते हुए कहा कि बजट 2021-22 भारत के आशाओं अकांक्षाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। यह बजट मुख्यतः किसानों और आम आदमी के हित का बजट है। यह आत्मनिर्भर भारत के संकल्प की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है।कोविड – 19 की माहामरी के बावजूद इंफ्रास्टक्चर के खर्च पर जैसे सड़क, रेल, हवाई सेवाएं तथा निर्बल वर्ग के लिए आवास योजना के साथ-साथ, ऊर्जा विशेषकर वैकल्पिक ऊर्जा की ओर ध्यान दिया गया है। मिशन जल जीवन के बजट में बढोतरी की गयी है। स्वास्थय सेवाओं के सुदृरीकरण, कोविड वैक्सीन आदि के लिए भी बड़ी धनराशि प्रावधानित है।  किसानों की आय को दुगुना करने के लिए एम.एस.पी व सरकारी खरीद में बढोत्तरी के आश्वासन के साथ-साथ कृषि उपकरणों को सस्ता किया गया है तथा मण्डीयों के सुधार करने तथा 1000 मंडियों को ई-प्लेटफार्म से जोड़ने का संकल्प प्रशंसनिय है। एक देश एक कार्ड की व्यवस्था से प्रावासिय श्रमिको को बड़ी राहत मिलेगी। भारतीय उद्योगो को मजबूत करने के लिए आयात के कई वस्तुओं पर कस्टम डयूटी बढ़ाई गयी है तो दूसरी ओर निर्यात को बढ़ाने का प्रयास है। चार श्रम न्यायालयों एवं सैकड़ो अनावश्यक करों व नियमों को समाप्त कर विदेशी निवेश को आकर्षित करने के लिए बजट में व्यवस्था की गयी है। वस्त्र उद्ययोग, हाउसिंग को बढ़ावा देकर रोजगार श्रृजन का प्रयास किया गया है। स्टार्टअप एवं महिलाओं उद्यमियों के लिए ऋण व टैक्स में विशेष सहूलियत दी गयी है और 75 वर्ष से अधिक आयु के नागरिको को इनकम टैक्स रिर्टन फाइल करने से मुक्त किया गया है। 100 जिलों में 1 करोड अतिरिक्त महिलाओं को उज्जवला योजना के अंतर्गत लाने का निर्णय है। अनूसूचित जाति जन जाति के लिए 700 आवासीय विद्यालयों सहित, वजिफे एवं व्यवसायिक प्रशिक्षण की धनराशि में अच्छे बढ़ोत्री की गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *